HomeNEWSईडी ने भारत में Vauld के फ्रीज किए 4.65 करोड़ डॉलर

ईडी ने भारत में Vauld के फ्रीज किए 4.65 करोड़ डॉलर

-

Follow us

12,500FollowersFollow

 

भारत के प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने Vauld की एक स्थानीय सहायक कंपनी फ्लिपवोल्ट टेक्नोलॉजी से संबंधित लगभग 4.65 करोड़ डॉलर की संपत्ति फ्रीज कर दी है। एजेंसी ने अपने ट्विटर हैंडल पर 12 अगस्त को एक बयान जारी कर इसकी पुष्टि की। ईडी के अनुसार, वह मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों को लेकर वॉल्ड और उसकी सहायक कंपनी की जांच कर रही है। इसी तरह, एजेंसी द्वारा फ्रीज की गई राशि 3.70 अरब रुपये से ज्यादा है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने Vauld की सहायक कंपनी फ्लिपवोल्ट टेक्नोलॉजी और येलो ट्यून टेक्नोलॉजी पर क्रिप्टो एक्सचेंज के जरिए अवैध हस्तांतरण करने का आरोप लगाया। नियामक के मुताबिक वर्तमान में जांच की जा रही 20 से अधिक फर्मों ने येलो ट्यून के क्रिप्टो वॉलेट में 3.70 बिलियन रुपये की राशि जमा की। बाद में इस राशि को विदेशी वॉलेट एड्रेस पर इस तरह से ट्रांसफर कर दिया गया जो नियत प्रक्रियाओं का उल्लंघन करता है।

प्रवर्तन निदेशालय ने इसमें मिलीभगत का आरोप लगाया है। ईडी के अनुसार, एक्सचेंज जांच में सहयोग करने में विफल रहा। कथित तौर पर इसने एजेंसी को वॉलेट की जरूरी केवाईसी जानकारी मुहैया नहीं कराई। साथ ही यह येलो ट्यून द्वारा किए गए क्रिप्टो लेनदेन को दर्ज करने में भी विफल रहा।

ईडी को Vauld के मालिकाना हक वाले भारतीय एक्सचेंज की संपत्ति को फ्रीज करने के लिए मजबूर होना पड़ा। जब तक वह अपने खिलाफ लगे आरोपों के बचाव में विस्तृत जानकारी मुहैया नहीं करता, तब तक यह राशि जब्त रहेगी।

फिनटेक फर्मों की जांच कर रही ईडी

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कई फिनटेक कंपनियों के संचालन और अनुपालन की जांच शुरू कर दी है। इसका मकसद भारतीय रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने वाली कंपनियों पर मुकदमा चलाना था। बताया जा रहा है कि ईडी को कई फिनटेक फर्मों की गतिविधियां संदिग्ध मिली हैं।

प्रवर्तन निदेशालय ने भारतीय क्रिप्टो एक्सचेंज वजीरएक्स की संपत्ति को भी सील कर दिया था। ईडी ने एक्सचेंज पर विदेशी मुद्रा विनियमन के उल्लंघन का आरोप लगाया था। कथित तौर पर इसने कुछ इंस्टेंट लोन वेंचर्स को अपने नेटवर्क पर पैसे को क्रिप्टोकरेंसी में बदलकर अवैध आय को कम करने में मदद की थी। एक्सचेंज से 64.67 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति फ्रीज की गई।

वजीरएक्स के प्रवक्ता ने इस पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने एजेंसी को जांच में सहयोग करने का भरोसा दिया। प्रवक्ता ने कहा कि वजीरएक्स ने एजेंसी द्वारा पूछे गए सभी सवालोंजारी सभी सवालों का जवाब दिया। साथ ही एजेंसी द्वारा लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। हालांकि, उन्होंने कहा कि वजीरएक्स पहले से ही अगली कार्रवाई का मूल्यांकन कर रहा है।

Most Popular