HomeNEWSIoTex और Zcash को मिला Binance का नेटवर्क अपग्रेड

IoTex और Zcash को मिला Binance का नेटवर्क अपग्रेड

-

Follow us

13,967FollowersFollow

 

वैश्विक क्रिप्टो एक्सचेंजों में से एक Binance ने IoTeX (IOTX) और Zcash (ZEC) को नेटवर्क एडवांसमेंट के लिए समर्थन देने की बात कही है। क्रिप्टो एक्सचेंज ने सोमवार को अपनी वेबसाइट पर एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए यह घोषणा की। IOTEX एक ओपन-सोर्स प्लेटफॉर्म है, जिसे एथेरियम टोकन IOTX के जरिए संचालित किया जाता है। वहीं, Zcash एक उभरता हुआ ब्लॉकचेन नेटवर्क है, जिसमें मजबूत प्राइवेसी सुविधा का एक देशी (native) टोकन है।

जैसा कि पता चला है, IoTEX (IOTX) पर नेटवर्क एडवांसमेंट को 17,662,681 IoTex ब्लॉक हाइट पर पहुंचाने के लिए शेड्यूल किया गया है। यह अपग्रेड भारतीय समयानुसार बुधवार सुबह 4.30 बजे निर्धारित किया गया। प्लेटफॉर्म ने इसके एक घंटे पहले निकासी और डिपॉजिट पर रोक लगा दी।

Zcash (ZEC) की बात करें तो इसके डेवलपर्स इसकी नेटवर्क एडवांसमेंट 1,687,104 Zcash ब्लॉक हाइट पर शुरू करना चाहते हैं। इसी तरह नेटवर्क ने भारतीय समयानुसार बुधवार 1 मई सुबह 5 बजे डिपॉसिट और निकासी पर रोक लगाने की योजना बनाई।

रिपोर्ट्स के मुताबिक IOXT और ZEC पर नेटवर्क अपग्रेड के बाद ट्रेडिंग सुचारू हो जाएगी। Binance ने अपने सभी IOTX और ZEC धारकों को उनके Binance अकाउंट में सभी तकनीकी जरूरतों को संभालने की घोषणा की। इस क्रिप्टो एक्सचेंज ने यूजर्स को यह आश्वासन भी दिया कि एडवांसमेंट से दोनों नेटवर्क पर नए टोकन नहीं बनाए जाएंगे।

Binance अपग्रेड पूरा होने के बाद IOTX और ZEC की निकासी और डिपॉजिट को फिर से शुरू कर देगा। एक्सचेंज का मानना है कि इन सेवाओं को दोबारा तभी शुरू किया जाएगा, जब दोनों प्लेटफॉर्म स्थिर होंगे।

IOTEX और ZCash की शुरुआत कैसे हुई?

IOTEX 2017 में वेब 3 अर्थव्यवस्था के भविष्य को बढ़ावा देने के लिए विकेंद्रीकृत प्लेटफॉर्म की पेशकश करते हुए सामने आया था। इस प्लेटफॉर्म ने हालही में एक वेंचर फंड से 10 करोड़ डॉलर की राशि जुटाई। अब तक Einsvill Labs और Hashkey जैसे 14 निवेशकों का साथ मिल चुका है। इस नेटवर्क के पास विस्तृत स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट और कम शुल्क में पांच सेकंड के भीतर ट्रांजेक्शन करने की क्षमता है। इसके पास IOTX नाम से एथेरियम टोकन, जो उसके नेटवर्क को ताकत देता है। टोकन का इस्तेमाल भुगतान, स्टेकिंग और गवर्नेंस के लिए किया जाता है।

वहीं, Zcash एक निजी ब्लॉकचेन और भुगतान नेटवर्क है। यह प्लेटफॉर्म अपने ट्रांजेक्शन की जानकारी को सार्वजनिक उपभोग से दूर रखकर उसे सुरक्षित बनाता है। इसकी शुरुआत 2016 में हुई थी, तब इसने बिटकॉइन की नकल करके एक नई डिजिटल करेंसी बनाने की कोशिश की थी। Zcash आमतौर पर ट्रांजेक्शन को वेरिफाई करने के लिए zk-SNARK सिक्योरिटी प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करता है, ताकि इसकी जानकारी दूसरे नेटवर्क के पास न पहुंच सके।

Most Popular